बैठक के दौरान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के सामने ही भिड़े भाजपा नेता।
March 6, 2020 • Sachin Kumar

बैठक के दौरान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के सामने ही भिड़े भाजपा नेता।
मुरादाबाद । मुरादाबाद मे हुई बैठक के दौरान आपस मे भिड़े गये भाजपा नेता। हंगामा व्यापार प्रकोष्ठ के पूर्व जिलाध्यक्ष की शिकायत पर खड़ा हो गया। मुरादाबाद सर्किट हाउस में (शिक्षक चुनाव) एमएलसी चुनाव की तैयारियों को लेकर भाजपा की बैठक चल रही थी बैठक पहले कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत के बाद परिचय कराया गया। इसके बाद कार्यकर्ताओं की उनके क्षेत्र मे समस्याओं पर बातचीत का प्रोग्राम हुआ। इस प्रोग्राम के चलते व्यापार प्रकोष्ठ के पूर्व अध्यक्ष आरडी चतुर्वेदी ने उन्हें भाजपा के पूर्व कार्यकर्ताओं की अनदेखी किए जाने का शिकायत पत्र देकर अपनी बात अध्यक्ष जी व कार्यकर्ताओं के समक्ष रखी। उनकी बात का जवाब जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह देने लगे। यह बात आरडी चतुर्वेदी को गलत लगी। उन्होने जिलाध्यक्ष से बीच में न बोलने के लिए कहा। इसको लेकर शोर शराबा होने लगा तो प्रदेश अध्यक्ष ने भी उन्हें जिलाध्यक्ष का सम्मान करने की हिदायत दी। जिस कारण चतुर्वेदी जी नाराज हो गये। उन्होंने कहा कि पार्टी में कार्यकर्ताओं की आवाज को दबाया जाता है, इसिलिए ईमानदार, निष्ठावान कर्मठ कार्यकर्ता आज पार्टी से दूर भाग रहे हैं। बाहर से आए लोगों को पद दिए जा रहे हैं। इस दौरान उन्होंने शोर करते हुए कई पदाधिकारियों के नाम भी लिए, जिसको लेकर बहस बढ़ गर्ई। प्रदेश अध्यक्ष के सामने ही एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगायें गायें। काफी देर शोर-शराबा होने पर। प्रदेश अध्यक्ष के समझाने के बाद भी हंगामा शान्त नही हुआ। जिस पर  प्रदेश अध्यक्ष उठकर पंचायत भवन के कार्यक्रम के लिए चले गए। प्रदेश अध्यक्ष जी सर्किट हाउस से दोपहर में पंचायत भवन में आयोजित बजट पर चर्चा कार्यक्रम में पहुंचे। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कार्यकर्ताओं के बीच विवाद को इन्कार किया। कहा कि ऐसा कुछ नही हुआ है कार्यकर्ताओ ने अपनी बात रखी है जिसको सही से सुना गया है। कही विरोध या कोई हंगामा नही हुआ है।