दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश भड़काऊ बयान देने वाले भाजपा नेताओं पर दर्ज की जाए एफआईआर।
February 27, 2020 • Sachin Kumar

दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश भड़काऊ बयान देने वाले भाजपा नेताओं पर दर्ज की जाए एफआईआर।

नई दिल्ली देश की राजधानी दिल्ली में दो दिनों से मची तबाही पर दिल्ली हाई कोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए केंद्र सरकार को जबरदस्त फटकार लगाने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर सांसद प्रवेश वर्मा विधायक अभय वर्मा और पूर्व विधायक कपिल मिश्रा को भड़काऊ बयान देने पर दिल्ली पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया हैं।

दिल्ली हाई कोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए कहाकि हर भड़काऊ वीडियो पर एफआईआर दर्ज की जाए और गुरुवार को इस पर सुनवाई की जाएगी दिल्ली हाई कोर्ट ने अनुराग ठाकुर के विधानसभा चुनाव के दौरान दिया गया भड़काऊ भाषण देश के गद्दारो को गोली मारो सालों को देखा इसके बाद सांसद प्रवेश वर्मा विधायक अभय वर्मा और पूर्व विधायक कपिल मिश्रा के भी वीडियो क्लिप देखे कपिल मिश्रा के वीडियो में दिल्ली का एक डीसीपी बगल में मौजूद था दिल्ली हाई कोर्ट ने वीडियो को देखने के बाद पूछा कपिल मिश्रा के साथ ये डीसीपी कौन हैं क्या नाम हैं इसका तो जवाब में कोर्ट में मौजूद वकीलों ने कहाकि इसका नाम सूर्या है।

गौरतलब है की एनआरसी और सी ए ए के विरोध में हुए प्रदर्शन के खिलाफ एन आर सी और सी ए ए के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगो का आपस मे विवाद हो गया था देखते-देखते इस विवाद ने हिंसक रूप ले लिया और पूर्वी दिल्ली दंगो से दहल गई अभी तक 26 लोगो की मौत हो चुकी हैं 80 आदमी घायल बताए जा रहे हैं कई मकानों और दुकानों को जला दिया गया हैं गाड़ियां आग के हवाले कर दी गई चारो और डर और भय का तांडव मचा हुआ हैं दिल्ली की ज़मीन खून से लाल हो गई और आसमान काले धुँए के बवंडर में समा गया हैं।