दिल्ली हिंसा की भेंट चढ़ा कोतवाली पिहानी क्षेत्र ग्राम राभा का किशोर, गोली लगने से मोनिस की हुई मौत
March 1, 2020 • Sachin Kumar

दिल्ली हिंसा की भेंट चढ़ा कोतवाली पिहानी क्षेत्र ग्राम राभा का किशोर, गोली लगने से मोनिस की हुई मौत

 

*हरदोई* उत्तर पूर्वी दिल्ली में पिछले दिनों हुई हिंसा में मृतकों की संख्या लगभग 50 पहुंच गई है। शुक्रवार को भी इस इलाके में कर्फ्यू जैसी स्थिति रही। दिल्ली में हुए दंगे का शिकार हुआ पिहानी कोतवाली क्षेत्र ग्राम राभा का निवासी 18 वर्षीय मोनिस अली पुत्र अलीशेर। मोनिस मजदूरी का काम करता था और 20 फरवरी को अपने गांव से रोजी-रोटी की तलाश में दिल्ली गया था। जहां पहले से ही मोनिस के चाचा जाबिर साबिर मुस्तफाबाद में रहते थे, उन्हीं लोगों ने इसे काम दिलाने के लिए कहा था। लेकिन क्या उसे क्या पता था कि दिल्ली में मौत उसका इंतजार कर रही है। परिवारिक सूत्रों के अनुसार मोनिस की मौत गोली लगने से हुई है। मोनिस कई दिनों से लापता था और मोनिस के बड़े भाई अजीमुद्दीन न्यूज़ देख रहे थे एनडीटीवी पर घायलों को स्ट्रेचर पर ले जाते हुए मोनिस की कपड़ो से  पहचान की थी। मोनिस के चाचा जाबिर और साबिर जीटीबी अस्पताल से संपर्क करने पर वहां उन्हें मोनिस की मृत्यु की जानकारी मिली। पोस्टमार्टम के बाद मोनिस का शव शाम 7:00 बजे के आसपास दिल्ली से लेकर चले सुबह 5:00 बजे मोनिस का शव ग्राम राभा गांव पहुचा शव पहुचते ही पूरे गांव में कोहराम मच गेया।  मोनिस के परिवार के सदस्यों का रो रो कर बुरा हाल है