नई दिल्ली--प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम सम्बोधन
March 20, 2020 • Sachin Kumar

नई दिल्ली--प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम सम्बोधन

जरूरी चीजों की कमी ना हो इसके लिए सप्लाई को रोका नही जाएगा। होर्डिंग ना करें,जरूरी चीजों की कमी ना हो इसके लिए सप्लाई को रोका नही जाएगा। होर्डिंग ना करें---pm मोदी।

विश्व संकट के गम्भीर दौर से गुजर रहा है , कोरोना ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला ,कोरोना वर्ल्ड वार 2 से भी अधिक विनाशकारी , कोरोना के सम्बंध में निश्चित हो जाने की सोच सही नही है , इसके प्रति हर भारतीय को सजग रहने की जरूरत है , मैं 130 करोड़ देश वासियों से कुछ मांगने आया हूं , मुझे आपके आने वाले कुछ सप्ताह चाहिए , अभी तक विज्ञान कोरोना महामारी से बचने के लिए कोई वैक्सीन नही बना पाया है , कोरोना पर अध्ययन से ये ज्ञात हुआ कोरोना की स्तिथि कुछ देशों में कुछ ही समय मे बहुत तेजी से बढ़ी है , भारत जैसे 130 करोड़ वाली आबादी वाले देश के सामने कोरोना का ये संकट सामान्य बात नही है , बड़े विकसित देशों में जो प्रभाव देखा जा रहा है ,भारत पर इसका प्रभाव नही पड़ेगा ये मानना गलत है ।
हमे ये संकल्प लेना होगा हम स्वयं संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी संक्रमित होने से बचाएंगे , 
संयम - भीड़ से बचना , घर से बाहर निकलने से बचना ।
हमारा संकल्प व संयम इस महामारी से बचने के लिए बड़ी भूमिका निभाने वाला है।
सरकारी सेवा , मीडियाकर्मी ओर जनप्रतिनिधियों की सक्रियता तो आवश्यक है पर समाज के बाकी लोगो को भीड़भाड़ से खुद को अलग कर लेना चाहिए ।
हमारे परिवारों में 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति घर से नही निकले। 
प्रत्येक देशवासी से समर्थन मांग रहा हु , जनता कर्फ्यू , जनता के लिए ,जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू , 22 मार्च रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का काम करना है ।
आवयश्क सेवाओ से जुड़े लोग ही बाहर निकले , 22 मार्च को हमारा ये प्रयास हमारे आत्मसंयम  और आने वाली चुनुतियो से हमे तैयार करेंगे।
देश की बाकी राज्य सरकारों से भी निवेदन , बाकी अन्य संघठनो से अनुरोध , अभी से रविवार तक जनता कर्फ्यू का संदेश लोगो तक पहुचाये , लोगो को जागरूक करे।
जनता कर्फ्यू हमारे भारत के लिए एक तैयारी की तरह होगा ।
22 मार्च को मैं आपसे एक ओर सहयोग चाहता हु , पिछले 2 महीनों से लाखों लोग दिन रात काम मे जूटे हुए है , आजकी परिस्थितियों में उनकी सेवाएं सामान्य नही कही जा सकती , जो लोग कोरोना वायरस ओर हमारे बीच मे दीवार बन कर खड़े है , 22 मार्च को ऐसे सभी लोगो को धन्यवाद अर्पित करे।
शाम को ठीक 5 बजे, 5 मिनट तक , अपने घर के दरवाजों , खिड़कियों ,बालकनी में खड़े होकर , 
ताली बजा कर , घण्टी बजा कर , थाली बजाकर  उनका आभार व्यक्त करें।
लोकल प्रशाशन भी सायरन बजा कर समय सभी को अवगत कराएं ।