पाली जिले में सभी स्कूल, काॅलेज, कोचिंग सेन्टर, मदरसे, जिम एवं सिनेमाघर 30 मार्च तक बंद रहेगें।
March 17, 2020 • Sachin Kumar

पाली जिले में सभी स्कूल, काॅलेज, कोचिंग सेन्टर, मदरसे, जिम एवं सिनेमाघर 30 मार्च तक बंद रहेगें।

 

पाली*, 14 मार्च। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए ऐहतियात के तौर पर जिले में सभी स्कूल, काॅलेज, कोचिंग सेन्टर, मदरसे, जिम एवं सिनेमाघर 30 मार्च तक बंद रहेगें।
जिला कलक्टर दिनेशचन्द जैन ने जिले के सभी राजकीय व मान्यता प्राप्त निजी विद्यालय एवं मदरसों को 30 मार्च तक बंद रखने के आदेश दिए है। स्कूल व मदरसों में कक्षा 5, 8, 10 एवं 12वीं बोर्ड परीक्षाएं पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार संचालित होगी। इसके अतिरिक्त गैर सरकारी विद्यालयों की बोर्ड के अलावा समस्त परीक्षाएं 30 मार्च के पश्चात संचालित होगी। विद्यालयों में संबंधित संस्था प्रधान विद्यालय के आवश्यक कार्यों को सम्पादित करने के लिए स्टाॅफ सहित ऐहतियात बरते हुए विद्यालय में उपस्थित रहकर कार्य कर सकेगें।
जिले के समस्त कोचिंग सेन्टर, जिम, सिनेमाघर बंद रहेगे इसके साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर आयोजित होने वाले मनोरंजन के कार्यक्रम, थियेटर में होने वाले नाटक मंचन आदि कार्यक्रम भी स्थगित रहेगें। सभी सरकारी, अर्द्धसरकारी संगठन, स्वयंसेवी संगठन एवं अन्य कार्यालय यथा संभव ऐसे कार्यक्रम जिनमें बड़ी संख्या में आम नागरिकों के भाग लेने की संभावना रहती है उनका आयोजन नहीं करेगें। उन्होंने जिलेवासियों से अपने पारिवारिक समारोह छोटा रखने तथा सीमित संख्या में मेहमानों को बुलाने की अपील करते हुए ऐसे स्थल जहां 20 से अधिक की संख्या में व्यक्तियों के शामिल होने की संभावना हो उसमें शामिल नहीं होने की सलाह दी है। उन्होंने गेर, धार्मिक आयोजन, मृत्युभोज इत्यादि से दूर रहने की अपील की है।
आदेशानुसार जिले के मेडिकल एवं नर्सिंग काॅलेज में कार्य संचालन सामान्य रूप से जारी रहेगा। सभी चिकित्सा अधिकारी आगामी आदेश तक अवकाश पर नहीं रहेगें। अतिआवश्यक परिस्थितियों में जिला कलक्टर की अनुमति के पश्चात ही मुख्यालय छोडेंगें साथ ही मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य एवं सीएमएचओ विभाग के समस्त कर्मचारियों को अवकाश एवं मुख्यालय परित्याग नहीं करने के संबंध में पाबंद करेगें। जिले के सभी राजकीय कार्यालय, अर्द्धसरकारी कार्यालय, राजकीय व निजी चिकित्सा संस्थानों में फर्श, रैलिंग, कुर्सियों, दरवाजों, अलमारियों, मेज व सीढ़ियों आदि पर प्रतिदिन कम से दो से तीन बार एक प्रतिशत हाइपोक्लोराईड सोल्यूशन का पोंछा लगवाएंगें तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में भी तीन बार हाइपोक्लोराईड सोल्यूशन का पोंछा लगवाया जाएं।
उन्होंने जिले की समस्त स्वायंत्तशासी निकायों एवं स्वयंसेवी संगठनों को निर्देशित किया है कि वे भी अपने स्तर पर नाटक मंचन, थियेटर एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम यथा गेर इत्यादि का आयोजन नहीं करेगें तथा सार्वजनिक समारोह में सीमित संख्या में नागरिक भाग लेने का संदेश प्रसारित करेंगे। आदेश का उल्लंघन किए जाने पर संबंधित के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी।
उन्होंने कहा कि आमजन को कोरोना के विषय में भीयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। जागरूक होकर थोड़ी सावधानी बरती जाएं। भीड़-भाड वाले स्थानों से बचे एवं आवश्यकता होने पर ही सार्वजनिक परिवहन का प्रयोग करें।